अतिरिक्त उपायुक्त आर.के. सिंह की अध्यक्षता में पैंशन सप्ताह के संबंध में बैठक का आयोजन

पलवल : (zeeharyana.com/Sunita Sharma)
अतिरिक्त उपायुक्त आर.के. सिंह की अध्यक्षता में शुक्रवा सांय लघु सचिवालय के द्वितीय तल पर स्थित सभागार में व्यापारियों और स्व-नियोजित व्यक्तियों के लिए प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना और राष्टï्रीय पेंशन योजना में नामांकन के लिए 30 नवंबर 2019 से 6 दिसंबर 2019 तक मनाए जाने वाले पैंशन सप्ताह के संबंध में एक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को इस संदर्भ में आवश्यक निर्देशित किया कि वे अपने-अपने क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले समस्त कर्मकारों को प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवाने के लिए प्रेरित करें ताकि अधिक से अधिक कर्मकार इस योजना में अपना पंजीकरण करवाकर उक्त योजना का लाभ उठा सकें।
आर. के. सिंह ने बताया कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असंगठित कर्मकार को पैंशन देने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना की शुरूआत की है। उन्होंने बताया कि योजना का लाभ लेने के लिए 18 वर्ष से 40 वर्ष की आयु तक के असंगठित कर्मकार को नजदीकी सीएससी (कॉमन सर्विस सेंटर) पर अपना पंजीकरण करवाना होगा। योजना का लाभ उन्हीं कर्मकारों को मिलेगा, जिनकी मासिक आय 15 हजार रुपये से कम है और कर्मकार ईएसआई, पीएफ, एनपीएस का लाभार्थी व आयकरदाता नहीं होना चाहिए। उक्त योजना के तहत पंजीकृत पात्र व्यक्ति की आयु 60 वर्ष पूर्ण होने के उपरांत तीन हजार रुपये मासिक पैंशन प्रदान की जाएगी।
उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के तहत पंजीकरण करवाने के लिए कर्मकार को आधार कार्ड, बैंक खाता या जनधन योजना की पास बुक की फोटो प्रति तथा मोबाइल नंबर देना अनिवार्य है। उन्होंने जिला के समस्त असंगठित कर्मकारों से आह्वïान किया है कि वे अपने नजदीकी  सीएससी पर जाकर इस योजना में अपना पंजीकरण करवाएं तथा आजीवन पैंशन योजना का लाभ उठाएं। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत विभिन्न प्रकार के व्यवसायों को शामिल किया गया है, जिसमें गृह आधारित कर्मकार, गली में फेरी लगाने वाला, कूड़ा एकत्रित करने वाला, धोबी, रिक्शा चालक, हथकरघा व चमड़ा कर्मकार, पान व छोटी दुकान वाले, कृषि कर्मकार, बोझा उठाने वाले, रेहड़ी वाला, भूमिहीन श्रमिक, सन्निर्माण कर्मकार, मध्याह्नï भोजन कर्मकार, दृश्य-श्रव्य कर्मकार, ईंट-भ_ïा कर्मकार, मनरेगा कर्मकार, आशा कार्यकर्ता, आंगनवाडी कार्यकर्ता, फिशरमैन व दर्जी आदि शामिल हैं।
इसके अतिरिक्त वार्षिक डेढ करोड रुपये से कम कारोबार वाले छोटे दुकानदारों के लिए राष्टï्रीय पैंशन योजना लागू की गई है, जिसमें 60 वर्ष की आयु पूरी होने के उपरांत तीन हजार रुपये मासिक पैंशन मिलेगी, जिसके लिए पात्र व्यक्ति इस योजना के अंतर्गत अपना पंजीकरण शहर व गांव के किसी भी सीएससी सेंटर पर जाकर करवा सकता है।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री की सुशासन सहयोगी मैमूना शाहर, सहायक श्रमायुक्त सतीश कुमार, सहायक निदेशक सुमित श्योराण, श्रम निरीक्षक सुशीलमान, पंचायत राज विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, कृषि विभाग, मत्सय विभाग, शिक्षा विभाग, समाज कल्याण विभाग, नगर पालिका व नगर परिषद, उद्योग विभाग सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।
Tags

Related posts

*

*

Top