मैडिकल कॉलेज के निर्माण करवाने की मांग को लेकर केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री को पत्र

चंडीगढ़ : (zeeharyana.com) मैडिकल कॉलेज के जल्द से जल्द निर्माण करवाने की मांग को लेकर हरियाणा कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता अशोक बुवानीवाला ने केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को पत्र लिखा है। पत्र के माध्यम से कांग्रेस नेता ने केन्द्रीय मंत्री से मांग की है कि भिवानी जिलावासियों के जीवन को प्रभावित करने वाले मैडिकल कॉलेज का वह अपने स्तर पर संज्ञान लेकर प्रदेश सरकार को आदेशित करके निर्माण कार्य तुरंत करवाया जाए ताकि क्षेत्र के लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं सुनिश्चित हो सकें। इस बारें और जानकारी देते हुए बुवानीवाला ने बताया कि कॉलेज निर्माण की अब तक कार्यवाही से भी स्वास्थ्य मंत्री को अवगत करवाया गया है और उन्हें जानकारी में लाया गया है कि तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नड्डा जी व हरियाणा के मुख्यमंत्री द्वारा इसका शिलान्यास किया जा चुका हैं। तत्पश्चात मैडिकल कॉलेज की चारदिवारी का काम भी पूरा हो चुका है। इसके बाद स्थान परिवर्तन की प्रक्रिया संज्ञान में आई है जो की हास्यापद लगती है। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार द्वारा पारित मैडिकल कॉलेज क्षेत्र के लाखों लोगों के स्वास्थ्य जीवन को प्रभावित करेगा। इसलिए प्रदेश सरकार को यहां की जनता को बरगलाने और भ्रमित कर उनके हितों से खिलवाड़ करने की बजाए इसका निर्माण करवाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि कॉलेज निर्माण की मांग को लेकर पिछले 12 दिनों से क्षेत्रवासी व आस-पास लगते ग्रामवासी अनिश्चितकालीन धरने पर है, लेकिन प्रदेश सरकार ने अभी तक उनकी कोई सुध नहीं ली है। अशोक बुवानीवाला ने मैडिकल कॉलेज के निर्माण की मांग को धरने पर बैठे लोगों का समर्थन करते हुए कहा कि 2014 व 2017 के सर्वे के लिए बनी कमेटी ने जो रिपोर्ट व प्रावधान भूमि के लिए दिए थे, उन्हीं को देखते हुए सरकार ने मेडिकल कॉलेज बनाने की मंजूरी देकर तत्कालीन स्वास्थ्यमंत्री व मुख्यमंत्री ने प्रेमनगर में मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास किया था। उन्होंने कहा कि कालेज की चारदीवारी बनाने के बावजूद मेडिकल कॉलेज का स्थान बदला जा रहा है, जो कि हास्यास्पद है। उन्होंने कहा कि शिलान्यास के नाम पर वोट बटोरने के लिए भिवानी की जनता को अंधेरे में रखा गया जो की पूर्ण रूप से भाजपा के स्थानीय जनप्रतिनिधि का ढुलमुल लापरवाही भरा रवैया और प्रदेश सरकार की भिवानी के प्रति भेद-भाव व दुर्भावना पूर्ण नीति को दर्शाता है। 

 

Tags

Related posts

*

*

Top