सर्कल वर्क्स कमेटी की मीटिंग में कर्मचारियों ने रखी अपने-अपने दफ्तरों से जुड़ी लाम्बित समस्याएँ

फरीदाबाद : (zeeharyana.com/Sunita Sharma) आज हरियाणा स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड वर्कर यूनियन की मीटिंग कोरोना के मद्देनजर सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए बिजली निगम के 11 केवी स्विचिंग सब स्टेशन इंडस्ट्रिज ऐरिया 2-ए, पर सर्कल सचिव सन्तराम लाम्बा की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई । मंच का सफल संचालन एनआईटी यूनिट सचिव बृजपाल तँवर ने किया । सर्कल वर्क्स कमेटी की इस मीटिंग का मुख्य उद्देश्य सर्कल स्तर पर कर्मचारियों की लाम्बित पड़ी समस्याओं को लेकर होना रहा । जिसमे फरीदाबाद सर्कल की चारों डिवीजनों के आधीन आने वाली सबडिवीजनों के बिजली कर्मचारी और यूनियन के पदाधिकारी भाग लेकर उपस्तिथ रहे । अपने अपने दफ्तरों से संबंधित परेशानियां और बिजली कर्मचारियों से जुड़ी समस्याओं को लेकर जारी इस मीटिंग में सर्कल सचिव सन्तराम लाम्बा को नोट कराया । वर्क्स कमेटी की मीटिंग में चारों डिवीजनों के प्रधान लेखराज चौधरी ओल्ड फरीदाबाद डीविजन से, कर्मवीर यादव बल्लभगढ़, विनोद शर्मा एनआईटी फरीदाबाद व सुनील कुमार ग्रेटर फरीदाबाद ने अपने अपने डिवीजनों के आधीन आने वाली मुख्यतः समस्याओं के बारे में विस्तार से रखते हुए बताया जिसमे सबडीविजन ईस्ट सेक्टर-16 के बिजली दफ्तर की जर्जर हालत हुई इमारत के बारे में बताई जिसके विषय पर कई बार निगम अधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है । लेकिन जब तक कोई बड़ा हादसा इस दफ्तर की छत के गिर जाने पर घटित ना हो या फिर किसी बड़ी दुर्घटना के चलते कर्मचारी के साथ और अन्य आमजन के साथ जान-माल की हानि का नुक्सान ना हो जाये शायद तब बिजली निगम और लोकल प्रशासन जागेगा । क्योंकि तब तक व उससे पहले तो कोई गौर होती ही नही । ऐसे ही बुरे व खस्ताहाल दयनीय हालातों से बिजली निगम की ज्यादातर सरकारी कॉलोनियाँ मेंटिनेंस के चलते जूझ रही हैं । त्यौहार सिर पर आने को है । लेकिन इन कॉलोनियों की सुध लेने वाला अभी तक कोई अधिकारी नही है ।

एचएसईबी वर्कर यूनियन फरीदाबाद कमेटी ने यूनियन एजेन्डे के जरिये एचवीपीएन टीएस के कार्यकारी अभियन्ता को अवगत कराया । किन्तु कर्मचारियों की समस्याएँ ज्यों की त्यों लाम्बित खड़ी हैं । उधर निगम के बिजली कम्पलेण्ड सेन्टर भी अछूते नही हैं । कई दफ्तरों के तो बिजली कम्पलेण्ड सेन्टर अस्थायी सेवा में चल रहे हैं । जिन्हें स्थायी करने को लेकर भी यूनियन के नेताओं ने आवाज उठाई । जब कर्मचारियों के लिये कम्पलेण्ड सेन्टर अधिकारियों की नजर में अस्थायी चल रहे हैं । तो ज्यादातर बिजली के दफ्तर भी अस्थायी इमारतों में चल रहे हैं । फिर उनके रख रखाव में चकाचौंध कैसे रखते हैं निगम के अधिकारी । फिलहाल बहुत से कम्पलेण्ड सेन्टरों पर कर्मचारियों के बैठने के लिये फर्नीचर तो दूर की बात शौचालय तक नही है । जिसकी वजह से कर्मचारीयों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है ।

मीटिंग में टेक्निकल कर्मियों को सुसज्जित उपक्रम के ना मिलने और उनके अभाव का होना भी अहम मुद्दा रहा जिसमे समय पर टी एन्ड पी किट यानी बिजली की लाइन को ठीक करते समय उपयोग में लाये जाने वाले उपक्रमों का ना मिलना कर्मचारियों की शिकायतें प्रमुख रही । सर्कल वर्क्स कमेटी की इस मीटिंग में जयभगवान, मुकेश, सोनू, शौकीन, हरिनिवास, मामचन्द, राजेश, वेदप्रकाश, मोहरपाल, विजय, सुरेन्दर, राजबीर, ईश्वर, जगदीश, सुधीर, दीपक, महेन्दर, चरन सिंह आदि कर्मचारी नेता मौजूद रहे ।

Tags

Related posts

*

*

Top