जाने कैसे कायदे कानूनों को ताक पर रखकर ,ADORE बिल्डर  लोगों को कर रहा है अपने मकड़जाल में फंसाने की तैयारी!

Narender Sharma, zeenexttimes@gmail.com
फरीदाबाद: फरीदाबाद के साथ-साथ पूरे हरियाणा में जहां हरियाणा सरकार और ईमानदार छवि की मनोहर सरकार ने झूठे वादे करके लोगों के साथ धोखाधड़ी करने वाले बिल्डरों पर शिकंजा कसा और उसके कारण लोगों को उनके मकड़ जाल में फंसने से बचाया
लोगों को दीनदयाल और अफॉर्डेबल हाउसिंग का तोहफा देकर सभी लोगों का अपना मकान होने का सपना पूरा करनी की कोशिश की
लेकिन कुछ बिल्डर सरकार की नीतियों पर पलीता लगाने का काम कर रहे हैं और लोगों को कच्चा लालच देकर एश्योर्ड रिटर्न देने का काम कर रहे हैं जिसके चलते फरीदाबाद में अफॉर्डेबल हाउसिंग बनाने वाले एडोर बिल्डर पर यह आरोप लग रहे हैं कि वह अफॉर्डेबल हाउसिंग के नाम पर 4 BHK की बुकिंग मात्र 200,000 में कर रहा है और इसकी एवज में वह 15 परसेंट का एश्योर्ड रिटर्न दे रहा है
इस तरह के संदेश लोगों को  व्हाट्सएप और कॉल्स के माध्यम से भेजे जा रहे हैं जब हमने इसकी छानबीन करने की कोशिश की तो एडोर बिल्डर का काम करने वाले एक व्यक्ति ने बताया की हालांकि अफॉर्डेबल में 4 बैडरूम की कोई पॉलिसी नहीं है लेकिन एडोर बिल्डर कुछ भी कर सकता है जिसमें अगर आप किसी के 200,000 लगवाते हैं तो आपको 25000 बतौर कमीशन और पैसे लगाने वाले को 15 परसेंट का एश्योर्ड रिटर्न मिलेगा लेकिन जब हमने यह सवाल पूछा की अफॉर्डेबल हाउसिंग में शायद अभी तक 4 बीएचके की कोई स्कीम नहीं है और इस हाउसिंग में कोई भी बिल्डर किसी तरह का एश्योर्ड रिटर्न नहीं दे सकता तो उनका सिर्फ एक ही जवाब था कि बिल्डर कुछ भी कर सकता है
इसमें सबसे हैरान कर देने वाली बात यह है कि जिस साइट पर यह जुगाड़ू स्कीम चलाई जा रही है वहां पर एडोर बिल्डर का ना कोई बोर्ड लगा है और ना ही किसी तरह का कोई बिल्डिंग प्लान या सरकारी अप्रूवल दिया गया है
जब हमने इसकी और अधिक तहकीकात करनी चाहिए और कंपनी के संचालक जितेश गुप्ता से बात करने की कोशिश की तो उन्होंने फोन नहीं उठाया और जब उनके कार्यालय जाकर मिलने  गए तो वह वहां पर नहीं मिले.
उनके एक कर्मचारी ने बताया कि यह प्रोजेक्ट के तिगांव के विधायक राजेश नागर जी का है तो यह सुनकर हम भी अचरज में आ गए इसको लेकर जब हमने विधायक राजेश नागर से बात की तो उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि मेरा इस तरह की स्कीम और बिल्डर से कोई लेना देना नहीं है.
ईमानदार और साफ-सुथरी छवि के विधायक राजेश नागर का नाम इस्तेमाल करके यह  एडोर बिल्डर भोले भाले लोगों को बेवकूफ बनाने का काम कर रहा है.
फरीदाबाद पहले ही एसआरएस और पीयूष जैसे बिल्डरों की चोट से नहीं उभर पाया और अगर एडोर ग्रुप ऐसे जालसाजी के काम करके लोगों की गाढ़े पसीने की कमाई को कच्चे लालच देकर हड़पने की फिराक में है ,
अब देखना होगा कि सरकार प्रशासन इस तरह के बिल्डरों पर क्या कार्रवाई करते हैं और एडोर बिल्डर इस पर अपना क्या पक्ष रखता है क्योंकि अभी तक वह इस पर अपना पक्ष रखने से बचता रहा है
क्रमश:
Tags

Related posts

*

*

Top