जी.एस.टी. को सहर्ष खुलकर अपनाएं उद्योगपति-मुख्यमंत्री मनोहर लाल

फरीदाबाद(zeeharyana.com)देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा पूरे देश में टैक्स की एकरूपता कायम करने के उद्देश्य से गत एक जुलाई से लागू किया गया गुड्स एवं सर्विस टैक्स (जीएसटी) राष्ट्रहित में उठाया गया एक ऐतिहासिक एवं अभूतपूर्व कदम है। सभी उद्योगपतियों एवं व्यवसायियों को चाहिए कि इसे सहर्ष खुलकर अपनाने के साथ-साथ इसके सम्बन्ध में अपने सम्पर्क में आने वाले सभी लोगों को भी जागरूक करें।
यह विचार हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गत सायं यहां सूरजकुण्ड के नजदीक स्थित एक निजी होटल के सभागार में फरीदाबाद इंडस्ट्रीज एसोसिएशन द्वारा आयोजित अपनी संस्था की 64वीं वार्षिक सामान्य बैठक को बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। मुख्यमंत्री ने दीपशिखा प्रज्जवलित करके कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।
  बैठक में हरियाणा के उद्योग मंत्री विपुल गोयल बतौर विशिष्ट अतिथि उपस्थित थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था के प्रधान नवदीप चावला ने की। बैठक में विधायक मूलचन्द शर्मा, टेकचन्द शर्मा व नगेन्द्र भड़ाना, एफआईए के संरक्षक के.सी. लखानी, उपायुक्त समीरपाल सरो, पुलिस आयुक्त डा. हनीफ कुरैशी तथा निगमायुक्त सोनल गोयल प्रमुख रूप से उपस्थित थे।
  मुख्यमंत्री ने कहा कि फरीदाबाद सहित प्रदेश के अन्य सभी जिलों के औद्योगिक क्षेत्रों में मजबूत संरचनात्मक ढांचा तैयार करके देना उनकी सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल हैं। इसके अन्तर्गत पक्की सड़कें, सीवरेज, सुदृढ़ बिजली आपूर्ति व्यवस्था जैसी मूलभूत सुविधाओं के साथ-साथ उद्योगपतियों की ओर से सरकार को दिए जाने वाले आवेदनों का आॅनलाईन सिस्टम भी प्रमुख रूप से शामिल है।
उन्होंने कहा कि इज आफ डूइंग बिजनेस में गत वर्ष हरियाणा छठे नम्बर पर था जो कि इस बार उद्यमियों के अनूठे सहयोग के फलस्वरूप नम्बर वन या फिर दूसरे नम्बर पर आने की प्रबल सम्भावना है। उन्होंने सरकार द्वारा चलाई जा रही सक्षम युवा उत्थान तथा कौशल योजना में भरपूर सहयोग देने के लिए संगठन के सदस्यों का आवाह्न किया। उन्होंने कहा कि जीएसटी सिस्टम को सरल करने तथा एचईपीसी सिस्टम को पूर्णतः आॅनलाइन करने बारे सरकार गम्भीरतापूर्वक कदम उठा रही है। रैपिड एक्शन सिस्टम के तहत उद्यमी सरकार को  सैल्फ एसैसमैंट सर्टिफिकेट देकर आवेदन कर सकते हैं ताकि उन्हें सुविधाओं का लाभ जल्द मिलना शुरू हो सके। मुख्यमंत्री ने एफआईए की ओर से विभिन्न क्षेत्रों में अग्रणी रहे औद्योगिक घरानों के प्रतिनिधियों को प्रोत्साहन स्वरूप स्मृति चिन्ह व प्रशस्ति पत्र भेंट कर सम्मानित किया।
उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के कुशल मार्ग दर्शन में देश-प्रदेश अनूठी तरक्की की ओर अग्रसर है। मंगलयान में भेजे गए सफल संयंत्र में 75 प्रतिशत सामग्री फरीदाबाद से बनी हुई लगाई गई और सर्जिकल स्ट्राइक में भी देश के जवानों ने फरीदाबाद की बनी बुलेट प्रूफ जैकेट पहनी हुई थी जोकि हमारे शहर फरीदाबाद की अनूठी औद्योगिक उपलब्धि है। उन्होंने फरीदाबाद में राष्ट्रीय राजमार्ग के सुधारीकरण, मैट्रो रेल सेवा के विस्तारीकरण तथा अन्य बड़ी योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व मुख्यमंत्री मनोहर लाल का आभार जताया।
संगठन के प्रधान नवदीप चावला ने मुख्यमंत्री का स्वागत व्यक्त करते हुए सरकार की ओर से उद्योगों के लिए शुरू किए गए आॅनलाइन सिस्टम हेतु आभार भी प्रकट किया। उन्होंने कहा कि एफआईए 64 साल पुराना संगठन है जोकि समय-समय पर विभिन्न परियोजनाओं व अभियानों को सफलतापूर्वक चलाने में सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलता है। श्री चावला ने मुख्यमंत्री से फरीदाबाद के नाॅन कन्मर्मिंग औद्योगिक क्षेत्रों को कन्फर्म की श्रेणी में लाने की स्वीकृति देने हेतु अनुरोध किया। संगठन के संरक्षक के.सी. लखानी ने मुख्यमंत्री का आभार प्रकट करते हुए फरीदाबाद औद्योगिक क्षेत्र के विकास के लिए सरकार की ओर से मंजूर की गई करोड़ों रूपये की राशि के लिए भी धन्यवाद किया।
बैठक में भाजपा के जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा, उद्योग विभाग के आयुक्त अशोक सांगवान, उपमहापौर मनमोहन गर्ग, उद्योगपति टीएम ललानी, शम्मी कपूर, नरेन्द्र गुप्ता, अजय जुनेजा, गुंजन लखानी, बीआर भाटिया, आरके धवन, गुरूनाम सिंह जुनेजा, डा. एनके पाण्डे, डा. राकेश गुप्ता, मानव रचना शिक्षण संस्थान की चेयरपर्सन सत्या भल्ला, एफआईए के सचिव कर्नल शैलेन्द्र कपूर, अतिरिक्त उपायुक्त जितेन्द्र दहिया तथा उपश्रमायुक्त अजय पाल डूडी सहित कई अन्य अधिकारी व एफआईए के सदस्यगण उपस्थित थे।
Tags

Related posts

*

*

Top