सतयुग दर्शन इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी में हुआ सेमिनार का आयोजन

फरीदाबाद : (zeeharyana.com/Sunita Sharma) भूपानी स्थित लालपुर रोड़ पर सतयुग दर्शन इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी में क्राईम से जुड़े विषयों पर एक सेमिनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में एसीपी क्राईम राजेश चेची मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद थे। संस्थान के डायरेक्टर प्रो.(डा.)भूपेश कुमार सिंह, डीन डा.एन.जे. डेम्बी ने मुख्य अतिथि  को फूल बुक्के देकर स्वागत किया। सेमिनार में बतौर अपने संबोधन में श्री चेची ने छात्र-छात्राओं को अपने बारे बताते हुए कहा कि वह भी पुलिस में आने से पहले एक स्कूल में अध्यापक रह चुके हैं। माता पिता के बाद गुरू ही छात्र-छात्राओं के भविष्य को उज्जवल बनाने में अह्म भूमिका निभाता है। इसलिए गुरू के आदर सत्कार के लिए हमेशा तत्पर रहना चाहिए। श्री चेची ने कहा कि आज छात्र-छात्राऐं भी बिना वर्दी के पुलिस वाले बन कर क्राईम को रोकने में अपना सहयोग दे सकते हैं। उन्हें केवल अपने आस पास की गतिविधियों पर ध्यान देने की आवश्यक्ता है। छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुये उन्होंने कहा कि देशभक्ति केवल अजादी जैसे पर्वों पर नहीं दिखानी चाहिए बल्कि देशभक्ति तो किसी भी समय दिखाई जा सकती है, जैसे मिसाल के तौर पर आप कागज बचाने, बिजली बचाने जैस घरेलू उपयोग में लाए जाने वाली चीजों में भी अपना किमती योगदान दे तो वह भी देशभक्ति कहलाती है। बल्कि मैं तो यह भी कहूंगा कि अपने आसपास किसी को दुर्घटना ग्रस्त देखें या फिर कोई फोन, मैसज या आजकल तेजी से फैल रही फैसबुक चैटिंग के जरिए आपको गुमराह करने की कौशिश कर रहा हो तो उसकी जानकारी अपने गुरू, सहपाठी, माता पिता या पुलिस को तुरंत दें, ऐसे करने से आप क्राईम को रोकने पुलिस की मदद भी कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि आजकल पुलिस किसी किस्म की अपराधिक सूचना देने वाले व्यक्ति का नाम गुप्त रखती है ताकि  सूचना देने वाले व्यक्ति के साथ कोई अनहोनी ना होने पाये। यह आपका देश के प्रति सच्चा प्रेम कहलाएगा। संस्थान के डीन डा. एन.जे. डेम्बी ने छात्र-छात्राओं को श्री चेची द्वारा दिए संदेश पर अमल करने के लिए पे्ररित किया वहीं संस्थान के डायरेक्टर प्रो.(डा.)भूपेश कुमार सिंह ने कार्यक्रम के अंत में मुख्य अतिथि एसीपी क्राईम राजेश चेची व सेमिनार में मौजूद सभी का अभार जताया।
इस मौके पर राजेश चंदेला (सीआईडी इंस्पेक्टर), मलखान चपराना (समाज सेवी), सुरेन्द्र चौहान, नेत्रपाल चंदेला के साथ संस्थान के सभी अध्यापकगण मौजूद रहे।
Tags

Related posts

*

*

Top