चेयरमैन की फटकार के बाद भी नहीं आया निगम अधिकारियों के रवैये में बदलाव

फरीदाबाद : (zeeharyana.com/Sunita Sharma) राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के चेयरमैन की फटकार के बाद भी निगम अधिकारियों का रवैये में कोई बदलाव नहीं आया। मजबूर सीवर कर्मचारी आज 34वें दिन भी निगम मुख्यालय पर धरने पर बैठे। आज के धरने की अध्यक्षता सीवरमैन यूनियन के प्रधान सुभाष फेंटमार ने की तथा मंच का संचालन यूनियन के सचिव राजू मंडोतिया ने किया। यह कर्मचारी पिछले 34 दिनों से 688 कर्मचारियों को निगम रोल पर करने, 22 ट्यूबवैल आपरेटर व बिल वितरक विनोद को बहाल करने, सीवर मैन व सफाई कर्मचारियों की भर्ती करने, सफाई के उपकरण तथा सेफ्टी किट देने की मांग कर रहे है।

धरने पर उपस्थित कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए नगरपालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री ने कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि संघ चाईनीज कम्पनी ईको ग्रीन भगाओ, रोजगार बचाओ, शोषण व वायदा खिलाफी के खिलाफ हल्ला बोल आन्दोलन करेगा। आन्दोलन के प्रथम चरण में 18 व 19 जनवरी को सभी नगर पालिका, परिषदों व निगमों के मुख्यालयों पर गेट मीटिंग व प्रदर्शन किए जाएगें तथा 30 जनवरी को अखिल भारतीय राज्य सरकारी महासंघ व सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा द्वारा 12 सूत्रीय राज्यव्यापी मांगों को लेकर सत्याग्रह व जेलभरो आन्दोलन में पालिका, परिषद व निगमों के कर्मचारी बढ़-चढ़कर भाग लेगें। इसके बाद 13 फरवरी से 16 फरवरी तक गुरूग्राम, फरीदाबाद व हिसार कमिश्नरी तथा 20 फरवरी से 23 फरवरी तक रोहतक कमिश्नरी तथा 20 फरवरी से 28 फरवरी तक अम्बाला कमिश्नरी के अधीन सभी जिला उपायुक्तों के कार्यालयों पर प्रदर्शन करते हुए जिला उपायुक्तों के मार्फत मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन प्रेषित किए जाएगें तथा 7 मार्च को सरकार व चाईना की कम्पनी ईको ग्रीन का प्रदेश के सभी शहरों के मुख्य चौराहों पर पुतला दहन किया जाएगा और इसके बाद 18 मार्च को 54 नगरपालिकाओं, 16 नगरपरिषदों व 10 नगर निगमों के सैकड़ों कर्मचारी शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन के सोनीपत स्थित आवास का घेराव करेगें।

यदि सरकार ने चुनावी घोषणा पत्र के अनुसार पालिका, परिषद और निगमों के कर्मचारियों को ठेका प्रथा से मुक्त कर पक्का नहीं करने व स्वच्छता अभियान के नाम पर सफाई कर्मचारियों के शोषण को बंद नहीं करने, रिक्त पदों व क्षेत्रफल आबादी के अनुपात में भर्ती करने, सफाई के औजार व उपकरण देने, ईएसआईसी का मैम्बर बनाने, अग्निशमन के आऊटसोर्सिंग कर्मचारियों को नियम-2016 में छूट देकर फायर आपरेटरों के पद पर समायोजित करने, वरिष्ठता एवं योग्यता के आधार पर पदोन्नति करने व 11 जुलाई को सरकार व संघ के बीच
हुए समझौते 17 मार्च तक को लागू नहीं किया गया तो संघ 18 मार्च को मंत्री के घेराव मंच से ही अनिश्चितकालीन आन्दोलन की घोषणा कर
देगा।

आज के धरने में जिला सचिव नानकचंद खैरालिया, बलवीर सिंह बालगुहेर, सतपाल मेंढवाल, सीवरमैन यूनियन के पूर्व प्रधान अनूप
चिंडालिया, कोषाध्यक्ष ताराचंद ठेकेदार, राजेन्द्र बेनीवाल, मामचंद, बेलदार यूनियन के प्रधान रोहताश रेढू, राजू खान, विरेन्द्र, जग्गी बेनीवाल, पप्पू चौटाला, प्रदीप चावरिया, दयाराम, कुमरपाल, रगबीर चौटाला, कंवरचंद सहित अनेकों लोग मौजूद थे।

Tags

Related posts

*

*

Top