छात्रों के संचार कौशल को बढ़ाने के लिए कार्यक्रम “होनिंग द मिलेनियल-नेक्स्ट जेन” लॉन्च किया गया

फरीदाबाद : (zeeharyana.com/Sunita Sharma)  हरियाणा विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय, उच्च शिक्षा विभाग,हरियाणा  के साथ मिलकर, राज्य के डिग्री कॉलेजों में पढ़ रहे छात्रों के संचार कौशल को बढ़ाने के लिए एक कौशल कार्यक्रम “होनिंग द मिलेनियल-नेक्स्ट जेन ” लॉन्च किया है।
कार्यक्रम का शुभारम्भ  माननीय कुलपति एचवीएसयू श्री राज नेहरु, श्री अतुल कुमार आए ए एस , उपायुक्त ,डॉ प्रीता कौशिक तथा कोनट्रिक्स से श्री नरेश मागो  डॉ  ने दीप प्रज्वलित कर के किया 1ततपश्चात कॉलेज  के विद्यार्थियों ने सरस्वती  वंदना की
 कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए माननीय श्री राज नेहरू ने  साझा किया कि हाल ही में हुए विभिन्न    वी बॉक्स अदि  सर्वेक्षण रिपोर्टों से ज्ञात होता है  कि संचार कौशल सहित रोजगार परक  कौशल की कमी  बेरोजगारी का एक  महत्वपूर्ण कारक  है । एचवीएसयू ने अपने सर्वेक्षण में यह भी पाया है कि युवाओं के एक बड़े वर्ग  को अपना वांछित रोजगार  हासिल  नहीं कर पाने  में  संचार कौशल की कमी की प्रमुख भूमिका  है। इस कार्यक्रम के तहत एचवीएसयू पूरे राज्य में 2500 छात्रों को प्रशिक्षित करेगा।
कौशल कार्यक्रम के प्रथम बैच  का उद्घाटन माननीय कुलपति श्री राज नेहरू जी ने किया ।
एचवीएसयू  ने इस प्रोग्राम में  कॉन्सट्रिक्स ग्रुप  के साथ साँझा रूप से तैयार किया है  और कॉन्सट्रिक्स समूह का प्रतिनिधि  नरेश मागु  ने बताया कि है कि कंपनी सीएसआर गतिविधि के तहत इस कार्यक्रम का समर्थन कर रही है। आधुनिक इंडस्ट्री की मांगों के अनुरूप विशेष रूप से तैयार इस प्रोग्राम का  प्रशिक्षण कोन्द्रट्रिक्स के ट्रेनर द्वारा प्रदान किया जाएगा।
कार्यक्रम के बारे में अधिक जानकारी साझा करते हुए  शॉर्ट टर्म कोर्स के संयुक्त निदेशक, एचवीएसयू कर्नल उत्कर्ष राठौर ने कहा कि यह स्नातक छात्रों की विशेष आवश्यकताओं के अनुसार 40 घंटे का कार्यक्रम है। यूनिवर्सिटी का लक्ष्य 2500 छात्रों को प्रशिक्षित करना है और एक बैच 25-30 छात्रों का होगा। इसमें मौखिक और गैर मौखिक संचार कौशल शामिल है जो विशेष रूप से आज के कॉपोरेट / उद्योग क्षेत्रों के अनुरूप हैI
 डॉ प्रीता कौशिक, प्रिंसिपल  गवर्नमेंट कॉलेज ने  एचवीएसयू, उच्च शिक्षा विभाग, हरियाणा और उद्योग सहयोगी कॉंसट्रिक्स के इस संयुक्त प्रयास की सराहना की और धन्यवाद  व्यक्त करते हुए आशा कि की युवाओं के प्रभावी संचार कौशल को बढ़ाने के लिए यह एक सफल कार्यक्रम सिद्ध होगा। उन्होंने अपने स्टाफ तथा विद्यार्थियों का सक्रिय रूप से इसमें भाग लेने  के लिए  विशेष रूप से  धन्यवाद किया
इस अवसर पर चंचल भारद्वाज, परीक्षा नियंत्रक, डॉ राज सिंह ,सहयक निदेशक, श्री संजय भारद्वाज, उपनिदेशक , श्रीमती  मीनाक्षी कौल, वशिस्ट कौशल संचालक आदि एचवीएसयू के अन्य अधिकारियों के साथ  प्रशासन और सरकारी कॉलेज के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे। राष्ट्रीय गान के साथ इस कार्यक्रम का समापन हुआ।
Tags

Related posts

*

*

Top