पित्त की थैली में फंसा था 15 सेंटीमीटर लंबा कीड़ा, देरी होती तो जा सकती थी मरीज की जान

फरीदाबाद : (zeeharyana.com/Sunita Sharma) पेट दर्द को हल्के में न लें। अक्सर हम पेट दर्द को  हल्के में ले लेते हैं लेकिन पेट दर्द के एक ऐसे ही मामले ने डॉक्टरों को भी हैरान कर दिया। गौरतलब है कि 30 वर्षीय अकबरी फरीदाबाद के एक निजी अस्पताल में पेट मे तेज दर्द की शिकायत को लेकर डॉक्टर के पास पहुंची थी। लेकिन जब डॉक्टर ने जांच की तो हैरान हो गए अकबरी के पेट की पित्त की थैली में 15 सेंटीमीटर लंबा  कीड़ा फंसा हुआ  था। जिसे डाक्टरों ने  बिना सर्जरी के एंडोस्कोपी के जरिए बाहर निकाला।जिसके बाद अब अकबरी बिल्कुल स्वस्थ है। वहीं डाक्टरों ने बताया कि अगर अकबरी अस्पताल आने में कुछ देर और करती तो उसकी जान भी जा सकती थी।
 टेबल पर प्लास्टिक के जार में दिखाई दे रहा है वही कीड़ा है जो अकबरी के पेट मे  पित्त की थैली में फंसा हुआ था डाक्टरों की माने की खानपान में साफ सफाई न रखने और दूषित पानी के चलते दूषित पानी पीने के चलते इस प्रकार के कीड़े पेट में पनप जाते हैं। वहीं डाक्टरों ने बताया कि यह कीड़ा अकबरी के पित्त की थैली के अंदर फंसा हुआ था और इस मामले में कई सारी जटिलताएं थी काम में फंसा हुआ था इस वजह से उसे वहां से निकालना बहुत ही मुश्किल काम था। लेकिन इसके मामले में एनेस्थीसिया  देकर एंडोस्कोपी तरीके को अपनाने का फैसला लिया और यह तरीका सामान्य तरीके से बिल्कुल अलग था, वह कीड़े को निकलने में सफल रहे और दूसरे दिन मरीज को डिस्चार्ज भी कर दिया गया।
 वही मरीज अकबरी की माने तो वह बिहार से फरीदाबाद अपने पति के यहां कुछ दिन के लिए घूमने आई थी। उनके पति यहां काम करते हैं लेकिन इसी दौरान उसकी तबीयत बिगड़ गई और उसे पेट तेज दर्द महसूस हुआ जिसके बाद उसके पति उसे यहां इलाज के लिए आये और डॉक्टर ने जांच में पाया कर उसके पेट में कीड़ा है ।लेकिन  डॉक्टर ने बिना ऑपरेशन के उनके पेट से कीड़े क्यों निकाल दिया और अब वह बिल्कुल  स्वस्थ हैं और  डाक्टरों का धन्यवाद दे रही है।
Tags

Related posts

*

*

Top