सिद्धदाता आश्रम पर दीपक बैसला और उनके परिवार की जमीन कब्ज़ाने का आरोप!

फरीदाबाद के सुप्रसिद्ध सिद्धदाता आश्रम और विवाद का चोली दामन का साथ रहा है। एक समय इनेलो सरकार में इनके अवैध कब्ज़ा को गिराया गया था उसी से सबक लेते हुए आज की सरकार और प्रशासन पूरी तरह से नमस्तक नज़र आता है। भोली भाली मासूम जनता को अधिकारियो और नेताओ से अपने घनिष्ट समबन्ध होने का प्रमाण भी देते है और किसी भी प्रमुख नेता के आने पर आश्रम से बाकायदा प्रेस विज्ञप्ति भी जारी किया जाता है।
आज ऐसे ही एक आम परिवार के लोग जिनकी जमीन सिद्धदाता आश्रम की गौशाला से लगती है उनकी करीब 4 मार्ले और 3 कनाल जमीन पर सिद्धदाता आश्रम का कब्ज़ा है और जिसके प्रमाण में दीपक बैसला और उनके परिवार ने कुछ वीडियो और ऑडियो जारी किये जिसमे साफ़ पता चल रहा है की दीपक और उनके परिवार पर जो मुकदमा दर्ज़ किया गया है वो अपने प्रभाव से करवाया है।
सिद्धदाता आश्रम के ट्रस्टी सतपाल शर्मा ने रिकॉर्डिंग में खुद माना है की आप लोगो की 4 मार्ले और 3 कनाल जमीन हमारे में लगती है उसको नपवा कर आपकी जमीन आपको वापस कर देंगे। इतने बड़े धर्मगुरु की बातो में आकर आज ये लोग अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहे है। दीपक बैसला ने आरोप लगाया है की प्रशासन से मिलकर इन लोगो ने अवैध रूप से चार दीवारी कर राखी है जबकि सुप्रीम कॉर्ड के आदेशानुसार कोई यहाँ एक ईंट भी नहीं रख सकता। इतना ही नहीं दिवार तोड़ने और जान से मारने की धमकी देने को लेकर झूठा मुकदमा दर्ज़ करा रखा है। इसके साथ साथ भविष्य में भी ऐसे और भी मुक़दमे दर्ज़ करा सकते है। इसके साथ जमीन से जुड़े सभी दस्तावेज दीपक बैसला ने मीडिया को दिए जिसमे ये जमीन उनके परिवार के नाम है
जब इस सन्दर्भ में हमने आश्रम में ट्रस्टी सतपाल शर्मा से बात की तो उन्होंने बताया की में फरीदाबाद में नहीं हूँ और वो लोग झूठे आरोप लगा रहे है।

Tags

Related posts

*

*

Top