दुकान के बाहर शराब पीने से मना किया तो अपहरण कर, उतारा मौत के घाट ।

फरीदाबाद : (zeeharyana.com/Sunita Sharma) दुकान के बाहर शराब पीने से मना किया तो अपहरण कर चाकू और रोड से हमला कर उतारा मौत के घाट। इतना ही नहीं युवक को बचाने आए उसके सगे भाई और पत्नी के भी इन लोगों ने रॉड से हमला कर हाथ-पैर तोड़ दिए। घटना फरीदाबाद के बल्लभगढ़ मैं आदर्श नगर की है। बदमाशों की संख्या 2 दर्जन से अधिक बताई जाती है पुलिस ने सबको बादशाह खान अस्पताल में तो भिजवा दिया है लेकिन घटना के संबंध में अभी किसी तरह का कोई केस दर्ज नहीं किया है।

जितेंद्र की कल देर रात बदमाशों ने चाकुओं से गोदकर और रॉड से हमला कर निर्मम हत्या कर दी। जितेंद्र पर हमला होते देख उनके भाइ आजाद और दुकानदार की पत्नी रानी अपने झगड़े को शांत करने का प्रयास किया तो बदमाशों ने उन्हें भी नहीं बख्शा। बदमाशों ने रोड और डंडों से हमला कर इन दोनों के भी हाथ पैर तोड़ दिया। हमला कर के आरोपी मौके से फरार हो गए। स्थानीय लोगों ने घटना की जानकारी पुलिस की दी और घायलों को स्थानीय सिविल अस्पताल में दाखिल कराया। मृतक के भाई आजाद की माने तो उसका भाई आदर्श नगर में परचूनी की दुकान चलाता है। बीती देर रात उनकी दुकान पर भरत पाल और उसके दर्जनों साथी आए और वहां पर शराब पीने लगे। शराब पीने से मना किया तो इन लोगों ने उसके भाई को दुकान से बाहर निकालकर पीटना शुरू कर दिया। पीटने के बाद इन्होंने चाकू और रोड निकाली और उसके भाई को वहां से दूर लेकर चले गए। जितेंद्र की पत्नी रानी की माने तो उन्होंने काफी प्रयास किया जितेंद्र को बदमाशों के चुंगल से छुड़ाने के लिए लेकिन बदमाशों ने उन पर भी रोड और डंडों से हमला कर उनके हाथ पैर तोड़ दिए। बदमाशों ने जितेंद्र को इतना मारा कि उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

Tags

Related posts

*

*

Top