18 दिन बाद भी नहीं गया शवगृह से नाईजीरियन का शव, पुलिस ने नाईजीरियन एम्बेंसी को पत्र लिखकर दी है सूचना।

फरीदाबाद : (zeeharyana.com/Sunita Sharma) फरीदाबाद के सूरजकुंड इलाके में गत 6 जुलाई को ड्रग्स सप्लाई करने वाले नाइजीरियन युवक की पुलिस के साथ हुई हाथापाई में मौत हो गई थी, जिसके शव को पोस्टमार्डम के लिये सिविल अस्पताल में रखवा दिया गया था, मगर 18 दिन बीत जाने के बाद अभी तक किसी ने मृतक के शव को लेने के लिये क्लेम नहंी किया है। हलांकि पुलिस ने नाईजीरियन एम्बेंसी को पत्र लिखा है मगर वहां से कोई जबाब नहीं आया है।
बता दें कि मृतक नाइजीरियन माइकल चाल्र्स के ग्रीन फील्ड कालोनी स्थित फ्लेट नंबर 2821 में रहता था, 6 जुलाई की रात गुरूग्राम पुलिस को दो नाईजीरियन युवकों द्वारा ड्रग्स फरीदाबाद की ओर ले जाने की सूचना मिली जिसपर गुरूग्राम और फरीदाबाद पुलिस ने दोनों नाईजीरियन युवकों का पीछा किया, इस दौरान सूरजकुड रोड पर नाईजीरियन और पुलिस की आपस में हाथापाई हुई जिसमें एक नाईजीरियन को गोली लगी और उसकी मौके पर ही मौत हो गई, दूसरे को पुलिस ने ड्रग्स से साथ गिरफ्तार कर लिया था, मृतक नाईजीरियन को पुलिस ने पोस्टमार्डम के लिये सिविल अस्पताल में रखवा दिया था, जहां पोस्टमार्डम हो जाने के बाद अभी तक उसके शव को ले जाने के लिये क्लेम नहीं किया है।
इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए डीसीपी क्राईम लोकेन्द्र सिंह ने बताया कि नाईजीरियन की मौत की सूचना नाईजीरिया एम्बेंसी को पत्र लिखकर दे दी है मगर अभी तक वहां से कोई जबाब नहीं आया है पुलिस उनके जबाब का इंतजार कर रही है, जब तक जबाब नहीं आयेगा तब तक नाईजीरियन युवक का शव उनके कब्जे में ही रहेगा।
Tags

Related posts

*

*

Top