हाई टेंशन के नीचे , प्रशाशन की छाती के ऊपर,रखी जा रही है अवैध निर्माण की भ्र्ष्ट ईंट

एक कहावत है की जब बाड खेत को खाने लगे तो उसे कोई नहीं बचा सकता ये ग्रेटर फरीदाबाद के मास्टर रोड के ऊपर हो रहे अवैध निर्माण पर सटीक बैठता है। कुछ भ्र्ष्ट अधिकारियों और छुटभैया नेताओ की घालमेल से सेवा शुल्क रूपी सेवा पाकर इनकी आखें बंद हो जाती है।
ये जो जगह दिखाई दे रही है ये सेक्टर 87 – 86 के मास्टर रोड और SRS रॉयल हिल्स के सामने की है। हद तो ये है की हज़ारो वाट की हाई टेंशन तारो के नीचे ये अवैध निर्माण हो रहा है जो की शायद ही किसी अवैध कॉलोनी में होता हो। अभी प्रशाशन आखँ बंद करके बैठा है और जब कोई हादसा होगा तो उसका जिम्मेवार सिर्फ भगवान् ही होगा क्योकि इन्हे तो अपनी मलाई से मतलब है।
हालांकि नगर निगम के सबसे ईमानदार कमिश्नर जो अपनी नित नयी कार्यशैली से नगर निगम में हो रहे करोडो के घपलो की पोल खोलते नज़र आते है। छुट्टियों से वापस आने के बाद उन्होंने आदेश दिए है की जितने भी अवैध निर्माण 15 दिन में हुए है उन सबको तोडा जाएगा।
लेकिन अब इस लूका छुपी के खेल में सेवाशुल्क डकारने वाले इनको कैसे बचाते है। नगर निगम के एस डी ओ ओ पी मोर से जब बात हुयी तो उन्होंने बताया की कमिश्नर साहब के आदेश है , और आपने जो इसकी जानकारी दी है इस पर उनके आदेशों से तुरंत कार्यवाही की जायेगी। मगर प्रशाशन के दुल मुल रवैये से इन दलालो को शे मिलती है।
क्रमश :

Tags

Related posts

*

*

Top