नगर निगम फरीदाबाद ठेकेदारों पर मेहरबान , बिना काम पूरा किये दे रहा है फुल दाम

फरीदाबाद नगर निगम हमेशा किसी ना किसी बात को लेकर चर्चा में रहता है। फिर चाहे वो बड़े से बड़े अवैध निर्माण तोड़ने वाले सिंघम अफसरों के लिए या फिर उन अधिकारियो के लिए जो आखों पर पट्टी बाँध कर बैठ जाते है और बहुमंजिला अवैध निर्माण दिखाई देना बंद हो जाते है।
 फरीदाबाद नगर निगम के अंतर्गत आने वाले सेक्टर 7 हाउसिंग बोर्ड की कर रहे है जहाँ के स्थानीय लोग और पूर्व पार्षद सेवर लाइन का काम करने वाले ठेकेदार धीरज तनेजा के कार्यो को लेकर आरोप लगा रहे है की सांठ गाँठ के चलते बिना कार्य पूरा किये पूरी पेमेंट हो गयी है और यहाँ काम अभी भी अधूरे पड़े है , कई जगह से सीवर लाइन का कनेक्शन नहीं हुआ तो कई जगह मैनिहाल खोद कर बनाने की बजाये मिटटी डाल कर फिर से धक् दिया गया है।  और बिना कार्य का निरक्षण किये मंत्री जी के आदेश पर पेमेंट भी हो गयी है।
पुराने ठेकेदार की पेमेंट हो चुकी है लेकिन काम नहीं हुआ है सीवर लाइन चौक पड़ी हुयी है , कोई लाइन चालू नहीं है उन्होंने गड्डा  खोदा और उसको बंद कर दिया ये काम हो हो रहा है यहाँ पर , कोई कनेक्शन नहीं हुआ कोई टैंक नहीं बना कई बार शिकायत भी की है पर कोई असर नहीं है।
: राकेश, स्थानीय निवासी
गली में चलते है रोड परे में चुभते है , खोद कर रोड खराब कर दी है , अगर सीवर बनाया है तो उसे चालु करे , मालवा ऐसे ही पड़ा हुआ है।
: चरणजीत कौर , स्थानीय निवासी
पुरे हाउसिंग बोर्ड में सीवर लाइन डाली थी ठेकेदार ने , जो जानकारी मिली है की उसे पूरी पेमेंट हो गयी है मगर काम पुरे नहीं हुए, सीवर के कनेक्शन नहीं हुए , सीवर खोद कर बिना मैनहॉल बनाये उनको भर दिया
: सुरेश कुमार , स्थानीय नागरिक
धीरज तनेजा नाम के ठेकदार ने सीवर लाइन डाली है पहले वो कहता था की पेमेंट करा दो काम पूरा करा दूंगा लेकिंग पैसे लेने के बाद भी काम नहीं किया , हमारी पार्टी के कुछ नेतागण की मेहरबानी से उसकी बिना काम किये पेमेंट हो गयी है।  कुछ दिन पहले सदन ये ये पास हुआ था की जिस वार्ड में काम होगा वहां पर पार्षद के सिग्न कराने जरुरी है
: कुलदीप तेवतिया पूर्व पार्षद
मेरी अभी पूरी पेमेंट नहीं हुयी है कम्पलीट पेमेंट नहीं    हुयी है काम में कहीं कोई कमी नहीं है एक जगह से कनेक्शन नहीं हुआ है , जैसे ही अडानी से मंजूरी मिलेगी वो भी पूरा कर दिया जाएगा
 : धीरज तनेजा , ठेकेदार
अब देखने वाली बात ये होगी की निगम कमिश्नर मोहमद शाइन इस पर कितनी कड़ी कार्यवाही करते है और जांच में सही पाया गया तो कैसे एडवांस दी हुयी पेमेंट को रिकवर करते है
क्रमश :
Tags

Related posts

*

*

Top