मिशन इंद्रधनुष 2.0 के लिए डिस्ट्रिक्ट टास्क फोर्स की बैठक का आयोजन

पलवल :- (zeeharyana.com/Sunita Sharma) उपायुक्त यशपाल की अध्यक्षता मे बुधवार को लघु सचिवालय के कांफ्रेंस हाल में सघन मिशन इंद्रधनुष 2.0 के लिए डिस्ट्रिक्ट टास्क फोर्स की बैठक का आयोजन किया गया।

उपायुक्त द्वारा सभी विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि इस कार्यक्रम में स्वास्थ्य विभाग के साथ पूर्ण सहयोग करें ताकि इस अभियान के तहत जिला पलवल के 0 से 2 साल तक के सभी बच्चों का पूर्ण टीकाकरण किया जा सके। उपायुक्त ने कहा कि इस टीकाकरण के बारे में अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार किया जाए ताकि जनमानस में टीकाकरण के प्रति जागरुकता उत्पन्न की जा सके। इसका ग्राम स्तर पर एक प्लान भी तैयार किया जाए। प्रत्येक फेज के बाद समीक्षा बैठक भी की जाए। प्रत्येक ग्राम सरपंच की जिम्मेदारी सुनिश्चित की जाएगी। अपने ग्राम के अंतर्गत आने वाले सभी बच्चों का टीकाकरण सुनिश्चित करें।

सिविल सर्जन डा. प्रदीप शर्मा ने इस कार्यक्रम की जानकारी देते हुए बताया कि इस मिशन का मुख्य उद्देश्य दिसंबर माह से शुरू होने वाले सघन मिशन इंद्रधनुष को सफलतापूर्वक चलाना है। सिविल सर्जन ने बताया कि यह अभियान दिसंबर 2019, जनवरी, फरवरी व मार्च 2020 तक चार माह के दौरान चलाया जाना है, जिसके अंतर्गत 0 से 2 साल तक के सभी बच्चों का पूर्ण टीकाकरण किया जाना है ताकि वैक्सीन से खत्म होने वाली सभी बीमारियों का खात्मा किया जा सके। विश्व स्वास्थ्य संगठन के डा. संजीव ने उपस्थिति को पॉवर प्वाइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से मिशन इंद्रधनुष के बारे में विस्तार से जानकारी दी। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी योगेश मलिक ने बताया कि इंद्रधनुष कार्यक्रम की शुरुआत 2014 से की गई थी व 2018 तक यह कार्यक्रम 6 भागों में चलाया गया, जिसके अंतर्गत जिला पलवल में पूर्ण टीकाकरण के स्तर को 25 प्रतिशत से बढ़ाकर 72 प्रतिशत तक किया गया था। उन्होंने लोगों से आह्वïान किया कि सभी आमजन उक्त माह के दौरान अपने 0 से 2 साल तक के समस्त बच्चों का पूर्ण टीकाकरण कराना सुनिश्चित करें ताकि वे सभी बीमारियों से बचे रहें और उनका बचपन व जीवन खुशहाल बन सके।

बैठक में एसडीएम पलवल जितेन्द्र कुमार, एसडीएम होडल वत्सल वशिष्ठ, सिविल सर्जन डा. प्रदीप शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी अशोक बघेल, राज्य प्रतिरक्षण अधिकारी डा. विरेंद्र अहलावत, उप सिविल सर्जन व जिला प्रतिरक्षण अधिकारी योगेश मलिक, डा. विश्वजीत, विश्व स्वास्थ्य संगठन की गुरूग्राम से वरिष्ठï चिकित्सा अधिकारी डा. बिंदु व मुख्यमंत्री की सुशासन सहयोगी मैमूना शाहर, जिला बाल कल्याण अधिकारी सुरेखा डागर सहित अन्य सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Tags

Related posts

*

*

Top