मृतक टेकचंद के परिजनों को पुलिस कमिश्रर ने दिलाया भरोसा लापरवाह डाक्टर होगा सलाखों के पीछे

फरीदाबाद (Mohit Kumar)। 30 अक्टूबर को दीपावली वाले दिन अपूर्वा नर्सिंग होम में डाक्टर की लापरवाही से मौत के आगोश में समा गए टेकचंद के परिजन सैकड़ों ग्रामीणों के साथ पुलिस कमिश्नर हनीफ कुरैशी के कार्यालय पर पहुंचे। एफआईआर दर्ज न होने एवं लापरवाह डाक्टरों की गिर तारी की मांग को लेकर धरने पर बैठते ही पुलिस कमिश्नर ने परिजनों से बातचीत में कहा कि वह टेकचंद को तो वापिस नहीं ला सकते परंतु दोषी डाक्टरों के खिलाफ आवश्यक ही कार्यवाही करेंगे। इंतजार है तो बस पैनल द्वारा किए गए डाक्टरों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट व बिसरा का। पुलिस कमिश्नर ने कहा कि खाकी उन्हें इसलिए दी जाती है ताकी वह इंसाफ कर सकें आप बेखौफ रहे टेकंचद की मौत के मामले में भी परिजनों को पूरा इंसाफ मिलेगा।
गौरतलब है कि 30 अक्टूबर को अपूर्वा नर्सिंग होम में अपेंडेक्स के ऑपरेशन में लापरवाही बरतने के कारण अस्पताल के संचालक डा0 प्रेम कुमार मग्गू, डा0 मलिक ने 21 वर्षीय टेकचंद वत्स की जान ले ली थी। परिजनों ने पुलिस कमिश्नर से कहा कि टेकचंद की मौत की जांच सीबीआई से कराने की मांग तो वह करेंगे ही साथ ही साथ प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से ऐसे डा0 के अपूर्वा नर्सिंग होम का लाईसेंस रद्द कराने की मांग ाी करेंगे। परिजनों ने कहा कि जल्द ही परिजन हरियाणा के पुलिस महानिदेशक के.पी. सिंह से मिलकर भी न्याय की गुहार लगाएंगे। गुस्साएं जवां के ग्रामीणों ने लापरवाह डाक्टर के खिलाफ सीएम विंडों पर भी शिकायत दर्ज कराई है। उधर गांव जवां में मृतक टेकचंद वत्स के घर सांत्वना देने पहुंचे राजनेता नयनपाल रावत ने कहा कि मृतक के परिजनों को न्याय नहीं मिला तो वह राष्ट्रीय राजमार्ग जाम करेंगे। इसी तरह पृथला विस क्षेत्र के विधायक टेकचंद शर्मा ने कहा कि दोषी डाक्टरों के खिलाफ शीघ्र कार्यवाही नहीं हुई तो वह मु यमंत्री मनोहर लाल खटटर से मिलकर लापरवाह डाक्टर के विरूद्ध मृतक टेकचंद के परिजनों को पूर्णतया न्याय दिलाने की मांग करेेंगे क्योंकि वर्तमान भाजपा सरकार झूठ नहीं अपितु न्याय में ही विश्वास रखती है।

Tags

Related posts

*

*

Top